मंगलवार को न करें ये काम, घर-परिवार पर आ सकते हैं संकट हजार

भारतीय ज्योतिष शास्त्रों में मंगल को सर्वाधिक क्रूर ग्रह बताया गया है तथा बिगड़ा हुआ मंगल सर्वदा अमंगल ही करता है। कालपुरूष सिद्धांत के अनुसार कुण्डली का पहला और आठवां भाग मंगल द्वारा जन्म लेता है तथा कुण्डली के चौथे भाव में मंगल नीच फल देता है तथा दसवें भाव में सर्वश्रेष्ठ बल देता है। कुण्डली का चौथा भाव घर-परिवार को संबोधित करता है तथा आठवां भाव व्यक्ति की आयु का निर्माण करता है। लाल किताब के अनुसार कुण्डली का दसवां भाव मंगल का पक्का घर कहा गया है तथा चौथे भाव में मंगल अमंगल में परिवर्तित हो जाता है। जब कभी भी मंगल व्यक्ति के चौथे भाव पर अपना असर दिखाता है तो व्यक्ति के घर-परिवार में अमंगल ही अमंगल होने लगता है। इस लेख के माध्यम से हम अपने पाठकों को बता रहे हैं की कैसे कुछ काम मंगलवार को न करके आप अपने पारिवारिक जीवन को खुशहाल बना कर अमंगल टाल सकते हैं और कैसे हनुमान जी आपके घर-परिवार की रक्षा कर सकते हैं।

क्या न करें 

* नेल कटर का उपयोग न करें।

* बाल न कटवाएं।

* धार वाली चीजें न खरीदें।

* घर की दक्षिण दिशा में कैंची अथवा धार वाली चीजें न रखें।

* घर की रसोई में सब्जी अथवा रोटी को जलने न दें।

* मांसाहार को घर में न पकाएं।

क्या करें

* हनुमान जी पर गुड़ का भोग लगाकर लाल गाय को खिलाएं।

* हनुमान जी के चित्र पर चमेली के तेल का दीपक करें।

* लाल रंग का रूमाल अपनी जेब में रखें।

* किसी गरीब मजदूर को चाय पिलाएं।

* गरीब बालको में मिठाई बांटें।

Add a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *